Image description

अगर आपको किसी ऐसे व्यक्ति का कॉल या मैसेज आता है, जिसकी आपने कभी कल्पना भी नहीं की है  और जो आपको कॉल करता है, वह आपसे मदद मांगता है, तो सावधान हो जाइए। हो सकता है कि आप कॉल स्पूफिंग के शिकार हुए हों। आज देश में साइबर अपराधियों के लिए स्पूफिंग तकनीक बहुत बड़ा हथियार बन गई है। इस तकनीक का इस्तेमाल हैकर्स करते थे।

वह अब अन्य अपराधियों की पहुंच में है। इस तकनीक से अपराधियों को पकड़ना बहुत मुश्किल है। देश में इस तकनीक के इस्तेमाल को लेकर ताजा अपराध का मामला सांसद साध्वी प्रज्ञा का है. जिन्हें साइबर अपराधियों ने इस तकनीक का उपयोग कर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला के नाम से मैसेज भेजा था कि हेलो प्रज्ञा, कैसी हो। कहां हो? बाद में, उन्होंने उन्हें जो संदेश भेजा, उसमें उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का नंबर उन्हें भेजे गए मैसेज में डिस्पले होने लगा। जांच के दौरान कॉल स्पूफिंग का मामला दर्ज किया गया। हालांकि, जांच में अभी तक उस अपराधी का पता नहीं चला है जिसने मैसेज भेजा था।